विज्ञान और प्रौद्योगिकी – जून 2018

0
132

विज्ञान और प्रौद्योगिकी – जून 2018

जुलाई मासिक वर्तमान मामलों  का अध्ययन करने के लिए यहां क्लिक करे

इसमें हमने जून महीने के विज्ञान और प्रौद्योगिकी, आविष्कार, अंतरिक्ष विज्ञान और ऐप्स और वेब पोर्टल दिया है। यह यूपीएससी, एसएससी, आरआरबी, और सभी पीएससी परीक्षाओं जैसी सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

विज्ञान और प्रौद्योगिकी – जून 2018

घातक superbugs से लड़ने में मदद करने के लिए 3,000 बैक्टीरिया की जीन मैपिंग
  • दवा प्रतिरोधी सुपरबग से लड़ने के नए तरीकों की तलाश करने वाले वैज्ञानिकों ने 3,000 से अधिक बैक्टीरिया के जीनोम मैप किए हैं।
अमेरिकाभारत मिलकर रखेंगे हिन्द महासागर पर नजर
  • विशाल हिन्द महासागर पर अधिक पैनी निगाह रखने के लिए भारत और अमेरिका के वैज्ञानिकों ने एक टीम बनाई है। भारत और आसपास के अन्य देशों सहित अमेरिका तक इस महासागर के वायुमंडलीय घटनाक्रम का उल्लेखनीय प्रभाव देखने को मिलता है।
जलंधर में 106 वां भारतीय विज्ञान कांग्रेसमोदी का उद्घाटन
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (एलपीयू) ने घोषणा की कि इसे विश्व की सबसे बड़ी विज्ञान घटना – भारतीय विज्ञान कांग्रेस की मेजबानी करने के लिए तैयार किया गया है।
भारत के भूजल में गंभीर यूरेनियम संदूषण
  • वैज्ञानिकों ने भारत के 16 राज्यों में जलीय जल से भूजल में व्यापक यूरेनियम संदूषण पाया है, जो देश के डब्ल्यूएचओ अस्थायी मानक से काफी अधिक है।
अधिक विवरण जानने के लिए  यहां क्लिक करे

आविष्कार – जून 2018

200 वर्षों में पहला अकार्बनिक नीला
  • YInMn ब्लू ‘या’ मास ब्लू ‘, एक अकार्बनिक ब्लू वर्णक जिसे वर्ष 200 9 में प्रोफेसर एम ए’ मास ‘सुब्रमण्यम द्वारा गलती से खोजा गया था, आज एक बिलियन डॉलर का उत्पाद बन गया है।
जीवाणुरोधी गुणों के साथ पॉलीथीन प्लास्टिक
  • आईआईटी दिल्ली टीम ने कहा कि सिल्वर नैनोपार्टिकल-एम्बेडेड प्लास्टिक में एस्चेरिया कोलाई और स्टाफिलोकोकस ऑरियस जैसे सामान्य बैक्टीरियल रोगजनकों के खिलाफ 99% से अधिक एंटीबैक्टीरियल गतिविधि होगी।
अपशिष्ट जल साफ करने के लिए नया मार्ग
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च, कोलकाता, और इंस्टीट्यूट ऑफ मैथमैटिकल साइंसेज, चेन्नई के शोधकर्ताओं द्वारा विकसित, नैनोमोटर का उपयोग कठोर रासायनिक वातावरण में आवश्यक उत्प्रेरकों को परिवहन और पानी में अवांछित रसायनों को हटाने के लिए किया जा सकता है।
कैंसर दवा वितरण के लिए नव सोने नैनोकोम्प्लेक्स
  • सीएसआईआर-इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल बायोलॉजी, कोलकाता के शोधकर्ताओं ने एक कुशल कार्बनिक अणु (पोर्फिरिन) के साथ लेपित सोने के नैनोकणों का उपयोग करके, एक कुशल दवा नैनोकैरियर तैयार किया है।
अधिक विवरण जानने के लिए  यहां क्लिक करे

अंतरिक्ष विज्ञान – जून 2018

अवलोकन उपग्रह का सफल प्रक्षेपण
  • चीन ने एक नए पृथ्वी अवलोकन उपग्रह का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण किया जिसका मुख्य रूप से उपयोग कृषि संसाधन अनुसंधान और आपदा निगरानी में किया जाएगा।लुओजिया -1 नामक वैज्ञानिक प्रयोग उपग्रह को उसी समय अंतरिक्ष में भेजा गया था।गाओफेन – 6 उपग्रह को लॉन्ग मार्च – 2D रॉकेट के साथ प्रक्षेपित किया गया था।
हेलीओस्फीयर में ब्रह्मांडीय किरणों का अध्ययन करने के लिए नासा के आईएमएपी
  • नासा हेलीओस्फीयर में ब्रह्मांडीय किरणों की पीढ़ी के बारे में और जानने के लिए एक नए मिशन के लॉन्च के लिए 2024 को लक्षित कर रहा है, जो हमारे सौर मंडल के आसपास चुंबकीय बुलबुला का एक प्रकार है।
वैज्ञानिकों को सौरमंडल से बाहर एक ग्रह पर पानी और धातु के सुराग मिले
  • वैज्ञानिकों ने सौरमंडल से बाहर स्थित एक ग्रह पर कई धातुओं की मौजूदगी के सुरागों का पता लगाने के साथ ही यहां पानी होने के संभावित संकेतों की पहचान की है।
मंत्रिमंडल की पोलर सेटेलाइट प्रक्षेपण यान मार्क-3 जारी रखने के कार्यक्रम के छठें चरण को मंजूरी
  • प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पोलर सेटेलाइट प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) जारी रखने के कार्यक्रम (छठें चरण) और इस कार्यक्रम के अंतर्गत 30 पीएसएलवी परिचालन प्रक्षेपण को वित्‍तीय सहायता प्रदान करने की मंजूरी दी है।
अधिक विवरण जानने के लिए  यहां क्लिक करे

एपीपी और वेबपोर्ट –जून 2018

गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह ने एफसीआरए के अंतर्गत विदेशी योगदान की निगरानी के लिए ऑनलाइन विश्लेषण टूल लॉन्च किया
  • गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह ने विदेशी योगदान (नियमन) अधिनियम, 2010 के अंतर्गत विदेशी धन प्रवाह तथा इसके उपयोग की निगरानी के लिए एक ऑनलाइन विश्लेषण टूल की शुरूआत की। वेब आधारित यह टूल सरकार के विभिन्न विभागों के अधिकारियों को विदेशी योगदान के स्रोत और भारत में इसके उपयोग की जांच करने में मदद करेगा।
पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय ने नए पूर्वानुमान मॉडल का परिचय दिया
  • पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (एमओईएस) ने बारिश, गर्मी की लहर और ठंडी लहर जैसे अत्यधिक मौसम कार्यक्रमों के अधिक सटीक और क्षेत्र विशिष्ट पूर्वानुमान पैदा करने के लिए एन्सेबल भविष्यवाणी प्रणाली (ईपीएस) लॉन्च किया।
निर्वाचन आयोग ने RTI पोर्टल शुरू किया
  • भारत के निर्वाचन आयोग ने आवेदकों को सूचना अधिकार अधिनियम के तहत जानकारी प्राप्त करने में मदद करने के लिए एक ऑनलाइन RTI पोर्टल शुरू किया।पोर्टल तक कमीशन की वेबसाइट ‘eci.nic.in’ के होम पेज पर पहुंचा जा सकता है।
पंजाब का पहला बिजनैस पोर्टल
  • पंजाब सरकार का इंडस्ट्री डिपार्टमेंट 7 जून को बिजनेस फर्स्ट पोर्टल लांच कर रहा है। इंडस्ट्री मिनिस्टर सुंदर शाम अरोड़ा जालंधर में पोर्टल की लांचिंग करेंगे। पोर्टल पूरी तरह से इंडस्ट्री को समर्पित होगा और सिंगल विंडो के रूप में काम करेगा।
अधिक विवरण जानने के लिए  यहां क्लिक करे

 

पूर्ण PDF Download

जून महीने के एक पंक्ति का अध्ययन करने के लिए यहां क्लिक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here